शाह ने छह ईको पार्क और पर्यटन स्थलों का भी शिलान्यास और उद्घाटन किया

नई दिल्ली। वर्तमान में दुनिया जलवायु परिवर्तन का सामना कर रही है। ऐसे में इसका एक ही उपाय है कि लोग ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाएं। पुराणों में भी कहा गया है कि केवल पेड़ ही हमें बचा सकते हैं। इसलिए सभी को पौधरोपण कार्यक्रम में शामिल हिकर अपनी भूमिका निभानी चाहिए।
उक्त बातें केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने गुरुवार को राजधानी दिल्ली स्थित अपने आवास पर पौधरोपण कर ‘वृक्षारोपण अभियान-2020’ का शुभारंभ करते हुए कही। इस दौरान शाह ने छह ईको पार्क और पर्यटन स्थलों का भी शिलान्यास और उद्घाटन किया। इस मौके पर केंद्रीय कोयला एवं खान मंत्री प्रह्लाद जोशी भी मौजूद रहे। शाह ने कहा कि अगर देश को आत्मनिर्भर बनाना है तो कोयले का स्पीडी खनन (जल्दी खनन) करके आयात को लगभग शून्य करना पड़ेगा। इस मौके पर उन्होंने बताया कि इस अभियान के तहत 10 राज्यों के 38 जिलों में 6000 एकड़ जमीन में पौधरोपण किया जाएगा। इस दौरान 6 लाख पेड़ लगाए जाएंगे, जबकि पांच लाख पौधे बांटे जाएंगे।


उल्लेखनीय है कि कोयला मंत्रालय द्वारा चलाये गए इस वृक्षारोपण अभियान 2020 के जरिए सरकार का फोकस कोयला क्षेत्रों में हरियाली को बढ़ाना है। इसी के तहत कोयला, लिग्नाइट पीएसयू की खदानों, कॉलोनियों और अन्य उपयुक्त इलाकों में बड़े पैमाने पर पौधरोपण के लिये अभियान चलाया गया है। इस दौरान पौधरोपण को बढ़ावा देने के लिए समाज में पौधों का वितरण भी किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *