रांची: जिले के बेड़ो प्रखंड के दिघिया गांव निवासी को-ऑपरेटिव बैंक के सीनियर मैनेजर मनीष गुप्ता का अहले सुबह चार बजे निधन हो गया। वो कोरोना पॉजिटिव थे और धुर्वा स्थित पारस हॉस्पिटल में उपचार चल रहा था।

उनकी पत्नी और एक बेटा भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। दोनों को देर रात रिम्स के कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया, जहां उनका उपचार चल रहा है। वहीं, मनीष गुप्ता के निधन से पूरे इलाके में मातम का माहौल है।

हरमू मुक्तिधाम में होगा अंतिम संस्कार

जानकारी के अनुसार, छह महीने बाद मनीष गुप्ता जॉब से रिटायर होने वाले थे, इससे पहले कोरोना ने उन्हें जिंदगी से ही रिटायर कर दिया। वह अपने पीछे भरा-पूरा परिवार छोड़ गए हैं। इधर, मनीष के आष्कमिक निधन से क्षेत्र के लोग और परिवार स्तब्ध हैं।

इनके तीन भाई हैं, एक डाक्टर रमेश गुप्ता जिनका बेड़ो में क्लीनिक है, दूसरा दिनेश गुप्ता जो गुमला जिले के घाघरा प्रखंड में अंचलाधिकारी के पद पर कार्यरत हैं और छोटे भाई राजेश गुप्ता व्यवसाय के साथ-साथ समाजसेवा से जुड़े हुए हैं।

वहीं, परिवार के लोगों ने बताया कि रिम्स में पोस्टमार्टम के बाद मुक्ति धाम हरमू रांची में अंतिम संस्कार प्रशासन की गाइडलाइन के तहत किया जाएगा। बता दें कि इसके पहले भी प्रखंड के केसा गांव के एक 24 साल के कोरोना संक्रमित युवक की पारस अस्पताल में ही उपचार के दौरान मौत हो गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *